जिम कैसे करे सही तरीका | Gym Tips in Hindi

क्या आप जिम जॉइन करने के बारे में सोच रहे हो और अपनी बॉडी बनाना चाहते हो या फिर फिटनेस के लिए जिम जाना चाहते हो तो ये बहुत ही अच्छा डिसिशन आपने लिए है क्यूंकि अच्छी सेहत से बढकर और कुछ भी नहीं है.  लेकिन क्या आप पहली बार जिम जा रहे हो या फिर आपको जिम करने का सही तरीका पता नहीं है तो आपके लिए ये पोस्ट बहुत ही काम का है.

इस आर्टिकल में आपको जिम में एक्सरसाइज कैसे करे की पूरी जानकारी देने वाले है जिसको फॉलो करके आप अपनी बॉडी की फिटनेस को बेहतर बना सकते हो और यदि आप बॉडी बनाने के लिए जिम जा रहे हो तो इस पोस्ट में हम आपको वह सब जानकारी देने वाले है जिससे आप अपने हर एक फिटनेस गोल को हासिल कर पाओगे.

आपको केवल इस पोस्ट को पूरा पढना है और हम आपको गारंटी देते है की इस लेख को पढने के बाद आपको कोई भी दूसरा आर्टिकल पढने की जरुरत ही नहीं पड़ेगी क्यूंकि ये कम्पलीट गाइड है. तो चलो दोस्तों शुरू करते है.

जिम में एक्सरसाइज कैसे करे सही तरीका

Gym Tips in Hindi

gym karne ka tarika

१. अच्छा फिटनेस सेंटर

यदि आपको अपने फिटनेस गोल को हासिल करना है तो इसके लिए आपको अच्छे जिम में जाकर ट्रेनिंग करनी होगी क्यूंकि अच्छे जिम में आपको फिटनेस ट्रेनर और जिम कोच मिलते है जो की आपको एक्सरसाइज करने की सही तरीका बताते है.

प्लस अच्छे जिम में वर्कआउट करने का मजा ही कुछ और होता है. हमको याद है जब हम कुछ पैसे बचाने के लिए सस्ते जिम में जाकर वर्कआउट करते थे लेकिन वह पर environment अच्छा ही नहीं होता था.

कोई फोन पर बात करता था और कोई मजाक मस्ती ऐसा लगता है नहीं था की हम जिम करने के लिए आये है और ऐसा लगता था जैसे की हम किसी ग्रुप में बातें करने के लिए आये है.

दोस्तों यदि आप अपने फिटनेस को लेकर सीरियस हो तो आपको ऐसे जिम में एडमिशन नहीं लेना चाहिए जहा पर कोई भी प्रोफेशनलिज्म ना हो. आप अच्छे जिम में जाये जहापर हर कोई अपने वर्कआउट और एक्सरसाइज को लेकर सीरियस हो.

ऐसे जिम में जाकर एक्सरसाइज करने से आपको अच्छा environment मिलेगा और आपको जिम करने में भी बहुत अच्छा लगेगा.

२. रेगुलर वर्कआउट

चलो आपने अच्छे जिम में एडमिशन तो ले लिया है और अब आपको ये पक्का करना है की आप रेगुलर जिम जाये और अपने वर्कआउट रूटीन को करे.

ये एक बहुत बड़ा इशू है जो की बहुत लोगो में देखने को मिलता है. वो लोग शुरुवात के कुछ दिनों या हफ्तों के लिए तो रेगुलर जिम जाकर वर्कआउट करते है लेकिन बाद में उनका इंटरेस्ट कम होते जाता है और कुछ तो जिम जाना ही छोड़ देते है.

यदि आपको लगता है की आप रेगुलर वर्कआउट नहीं कर पाओगे तो जिम ज्वाइन ही मत करो क्यूंकि आप अपने फिटनेस गोल को एक महीने या दो महीने एक्सरसाइज करने से हासिल नहीं कर पाओगे.

हमेशा फिट और स्वस्थ रहने के लिए आपको रेगुलर वर्कआउट करना बहुत जरुरी है और आपको ये जरुर करना चाहिए.

३. Gym wears

जिम में अच्छे से एक्सरसाइज करने के लिए आपको सही gym wear पहनना होगा क्यूंकि तभी आप अपने वर्कआउट को अच्छे से कर पाओगे. जिम करने के लिए आप ट्रैक सूट पहन सकते हो और पैरों में अच्छे स्पोर्ट्स शूज भी और ये परफेक्ट gym wear होता है.

बहुत लोग ऐसे होते है जो की जीन्स पहनकर जिम करने के लिए चले जाते है लेकिन ये सही तरीका नहीं है और इसमें आपको एक्सरसाइज करने में बहुत परेशानी होगी. कभी भी आपको हलके फुल्के कपडे पहनकर जिम करना चाहिए जिससे की आप अपने बॉडी को अच्छे से फ्लेक्स कर पाओ.

कभी भी टाइट कपड़ो में जिम नहीं करना चाहिए और हमेशा पैरों में स्पोर्ट्स शूज ही पहने. जो अच्छे जिम होते है वह पर तो ये नियम होता है की आपको ट्रैक सूट या शॉर्ट्स में एक्सरसाइज करना allowed होता है और यदि आप जीन्स पहनकर जिम करने आते हो तो वो लोग मना कर देते है.

आप किसी भी कपड़े की दुकान में जाकर अपने लिए जिम ट्रैक सूट खरीद सकते हो और इसकी कीमत भी बहुत ज्यादा नहीं होती है लेकिन इसको पहकर आप बहुत ही अच्छे तरीके से कसरत कर पाओगे.

४. सही एक्सरसाइज

अब ये पॉइंट को आपको बहुत ही ध्यान से पढना होगा.  कुछ लोगो को अपना वजन और मोटापा कम करना होता है, कुछ लोगो को बॉडी बनानी होती है, कुछ को अपना स्टैमिना बढ़ाना होता है और कुछ को केवल फिटनेस के लिए वर्कआउट करना होता है.

जो भी आपका टारगेट है आप उसके हिसाब से एक्सरसाइज करे. हर एक टारगेट को पाने के लिए आपको अलग अलग प्रकार की एक्सरसाइज करनी होती है.

जैसे की यदि आपको वजन, मोटापा और weight loss करना है तो इसके लिए आपको वेट ट्रेनिंग के ज्यादा cardio वर्कआउट ज्यादा करना होता है. यदि आपको बॉडी बननी है तो इसके लिए आपको weight training करना होता है.

अच्छे जिम में फिटनेस ट्रेनर होता है तो आप सबसे पहले तो अपने जिम कोच से बात करे और उनसे अपने फिटनेस गोल को discuss करे. उसके बाद वो आपको सही मार्गदर्शन देंगे की आपको कौनसी कसरत करनी चाहिए और कौनसी नहीं.

इसलिए दोस्तों हमने अपने पहले पॉइंट में कहा था की आपको अच्छे जिम में ही एडमिशन लेना चाहिए जहाँ पर अच्छे और प्रोफेशनल जिम कोच मौजूद हो.

वरना आप ऐसे वैसे किसी भी जिम में जाकर वर्कआउट करते हो तो आपको कोई भी गाइड करने वाला नहीं होगा और आप अपने मर्जी के हसीब से कुछ भी एक्सरसाइज करोगे.

ऐसा करने से आपको कोई भी फायदा नहीं होगा और आप अपना कीमती पैसे और वक़्त दोनों ही बर्बाद कर दोगे.

५. सही तकनीक

इसके बारे में हम अपने हर एक पोस्ट में कहते है क्यूंकि ये सबसे ज्यादा जरुरी है. आप जो भी एक्सरसाइज करते हो उसको आपको हमेशा सही तकनीक से करना चाहिए तभी आपको उस व्यायाम का फायदा होगा वरना नहीं.

८०% लोग जो जिम जाकर वर्कआउट करते है वो लोग हमेशा सही तकनीक से एक्सरसाइज नहीं करते है जिसकी वजह से उनको मन चाहा रिजल्ट नहीं मिलता है और वो लो परेशान हो जाते है की ऐसा क्यों होता है.

जब तक आप अपने टारगेट मसल्स को अच्छे से कॉन्ट्रैक्ट और फ्लेक्स नहीं करोगे तब तक आपकी बॉडी नही बनेगी और यही सेम नियम फिटनेस और weight loss करने वाले लोगो के लिए भी लागु होता है.

आपको चाहे बॉडी बननी हो, वजन घटना या बढ़ाना हो या अपनी फिटनेस को मेंटेन करना है तो इसके लिए आपको हर एक्सरसाइज को अच्छे से और सही तकनीक से करना बहुत जरुरी है.

यदि आप फर्स्ट टाइम जिम जा रहे हो और अपने पहले कभी भी कसरत नहीं करी है और आपको व्यायाम और वर्कआउट रूटीन की कोई भी जानकारी नहीं है तो आप अपने जिम ट्रेनर की हेल्प जरुर ले इससे आपको फायदा ही होगा.

क्यूंकि उनको पूरी जानकारी होती है और उनका काम ही होता है की लोगो को सही तकनीक सिखाये इसलिए आपको जब कभी भी कोई भी डाउट हो तो आप अपने जिम ट्रेनर से उस एक्सरसाइज की जानकारी जरुर प्राप्त करे.

६. फोकस करे

दुनिया के सबसे महान बॉडी बिल्डर अर्नाल्ड ने कहा था की यदि आपको अपने मसल्स के साइज को बढ़ाना है तो उसके लिए आपको उस टारगेट muscle पर एक्सरसाइज करते वक़्त अपना पूरा फोकस करना बहुत जरुरी है.

जब आप अपने टारगेट muscle पर वर्कआउट करते वक़्त फोकस करते हो तो आप उस टारगेट muscle को अच्छे से फ्लेक्स और कॉन्ट्रैक्ट कर पाते हो जिससे की उनका विकास होता है और उनका साइज भी बढ़ता है.

बहुत लड़के ऐसे होते है की वो डंबल curl एक्सरसाइज कर रहे होते है लेकिन उनका ध्यान अपने बाइसेप्स पर नहीं होता है बल्कि दुसरे लड़के के बाइसेप्स पर होता है.

ये बहुत ही गलत तरीका है और ऐसे करने से आपको पूरा फायदा नहीं मिलेगा. दुसरे की बॉडी को देखकर आपको क्या मिलेगा आपको अपने मसल्स पर फोकस करना चाहिए और अपना पूरा ध्यान उस टारगेट muscle को अच्छे से फ्लेक्स और कॉन्ट्रैक्ट करने में लगाना चाहिए.

अच्छी बॉडी बनाने के लिए आपको एक्सरसाइज करते समाये अपने माइंड और रेप्स को कनेक्ट करना बहुत जरुरी है और वजन को अपने टारगेट muscle पर फील करना भी उतना ही जरुरी है तभी आप उस सेट का पूरा लाभ उठा पाओगे.

७. Weight सिलेक्शन

अब जो लोग muscle build करने के लिए जिम जा रहे है उनको एक बात का हमेशा ध्यान रखना चाहिए की आपको weight सिलेक्शन करना बहुत जरुरी है और आपको सही वजन से एक्सरसाइज करना चाहिए.

ये पॉइंट पर हम थोडा ज्यादा फोकस करेंगे क्यूंकि ज्यादातर लड़के यहाँ पर बहुत गलती करते है वो लोग ये सोचते है की यदि हम बहुत भरी वजन से एक्सरसाइज करेंगे तो हमारे बॉडी का साइज जल्दी बढ़ेगा और हमको जल्दी रिजल्ट देकने को मिलेगा.

ये बात तभी तक ठीक है जब आप उस भारी वजन से सही तकनीक से अपने रेप्स को कर पाओ. वरना आप एक भी रेप अच्छे से लगा ही नहीं पा रहे हो तो इतने भरी वजन से वर्कआउट करने से आपको कोई भी फायदा नहीं होगा उल्टा आपको इंजरी हो सकती है.

आपको कभी भी उतने ही भरी वजन से एक्सरसाइज करना चाहिए जिससे आप अपने हर एक सेट और रेप्स को अच्छे से कर पाओ और weight को अपने मसल्स पर फील कर पाओ तभी आपकी बॉडी का साइज इनक्रीस होगा.

और प्लीज इस गलत धारणा को अपने मन से पूरी तरह से निकाल दो की अच्छी बॉडी बनाने के लिए आपको हैवी weight से एक्सरसाइज करना जरुरी है इससे ज्यादा आपको सही तकनीक और उस weight को अपने मसल्स में रेप्स करते वक़्त फील करना बहुत जरुरी है.

८. बॉडी रेस्ट

इस बारे में भी हम बहुत ज्यादा चर्चा करते है की आपको रेगुलर जिम करने के साथ साथ अपने बॉडी को प्रॉपर रेस्ट देना भी बहुत ज्यादा जरुरी है. क्यूंकि जब तक आप अपने बॉडी को प्रॉपर रेस्ट नहीं दोगे तब तक आपकी बॉडी फुल्ली रिकवर नहीं हो पायेगी.

आपको अपने अगले वर्कआउट रूटीन से पहले अपने उस बॉडी पार्ट को फुल रिकवर करने का समय देना चाहिए ताकि वो पूरी तरह से फ्रेश हो जाये और अगले वर्कआउट रूटीन में आप उस टारगेट muscle को अच्छे से ट्रेन कर पाए.

९५% लड़को की सोच ये है की यदि आपको अपने बॉडी का साइज बढ़ाना है तो आपको रोज जिम करना होगा, ये तो १००% गलत है और आपको रोज जिम बिलकुल भी नहीं करना चाहिए इससे आप ओवर ट्रेनिंग के शिकार हो जाओगे.

ओवर ट्रेनिंग करने से आपकी बॉडी की मसल्स ग्रो करना बंद कर देती है और उनका विकास नहीं होता है. जैसे की मान लो किसी लड़के को अपने बाइसेप्स का साइज बढ़ाना है तो वो रोज जिम जाकर केवल अपने बाइसेप्स को ट्रेन करता है.

उसको लगता है की रोज अपने बाइसेप्स को ट्रेन करने से उसके बाइसेप्स का साइज बढ़ जायेगा लेकिन ऐसा कभी भी नहीं होता है उल्टा उसके बाइसेप्स का साइज बढ़ना ही बंद हो जाता है क्यूंकि वो अपने बाइसेप्स मसल्स को फुल रिकवर करने का टाइम ही नहीं देता है.

जब आप कसरत करते हो तो उस टाइम पर आपके मसल्स ब्रेक होते है और जब आप रेस्ट करते हो तो वो टूटे हुए मसल्स जुड़ने का काम करते है और मजबूत होते है.  आपकी muscle टिश्यू बड़ी होती है जिससे की आपके बॉडी का साइज इनक्रीस होता है.

यदि आप अपने muscle को ये सब करने का टाइम ही नहीं दोगे तो आपके टूटे हुए मसल्स कैसे जुड़ेंगे और कैसे मजबूत होंगे? वो नहीं होंगे तो इससे बचने के लिए आपको अपने बॉडी को कम से कम हफ्ते में २ दिन  कम्पलीट रेस्ट देना बहुत जरुरी है.

जब आपकी मसल्स फुल रिकवर हो जाएगी तब आप देखना की अपने अगले वर्कआउट रूटीन के दिन आपको कितना अच्छा पंप मिलेगा और उनका साइज भी जल्दी इनक्रीस होगा. आप हफ्ते में कोई भी २ दिन अपने बॉडी को आराम दे सकते हो और उस दिन आपको कोई भी एक्सरसाइज नहीं करनी है केवल कम्पलीट रेस्ट करना है.

Final Words

दोस्तों हम उम्मीद करते है की ये पोस्ट आपको जरुर अच्छी लगी होगी और आपको पूरी जानकारी मिल गयी होगी की जिम करने का सही तरीका क्या होता है. हमने अपनी पूरी कोशिश करी है की इस पोस्ट को बेस्ट बनाये ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगो की हेल्प हो पाए.

यदि आपको हमसे इस पोस्ट से रिलेटेड कोई भी सवाल पूछना है तो आप कमेंट में अपने सवाल पूछ सकते हो और पोस्ट अच्छी लगी हो तो पोस्ट को शेयर भी जरुर करे.

जिम कैसे करे सही तरीका | Gym Tips in Hindi
5 (100%) 2 votes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *